लाखो का नुक्सान हुआ 50 लाख कर्मचारियों को, जानिए डिटेल्स

तो दोस्तों आपको बता दें कि इस महंगाई के दौर में पूरे देश भर में चल रहे महंगाई भत्ते और राहत भत्ता बढ़ाने का आंदोलन और सारे ही प्रदेश के कर्मचारी इंतजार कर रहे थे सरकार की कैबिनेट बैठक का जो कि 15 मार्च 2023 को हो चुकी है और यह मीटिंग होने के बाद देश के सारे कर्मचारी निराश हो चुके है

क्योंकि जिस पेंशन के बारे में यह कर्मचारी इंतजार कर रहे थे उसको सरकार ने आज एक नया ऐलान कर खारिज कर दिया गया है और यदि आप भी हैं केंद्रीय कर्मचारी तो जान ले पूरी डिटेल कि क्या किया है सरकार ने

🔥 Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे

आपको बता दें कि केंद्र सरकार के वित्त मंत्री पंकज चौधरी ने बताया कि 18 महीने का महंगाई भत्ता केंद्रीय कर्मचारियों का अब नहीं मिलेगा

Loss of lakhs to 50 lakh employees
🔥 Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे

क्योंकि सरकार ने यह भत्ता देने की कोई भी स्कीम नहीं बनाई है आपको बता दें कि पंकज चौधरी ने बताया कि कोरोना काल में जो महंगाई भत्ता केंद्रीय कर्मचारियों को नहीं दिया गया था वह महंगाई भत्ता कर्मचारियों को नहीं दिया जाएगा

क्योंकि को कोरोना काल में सरकार इस संक्रमण से लगने में बहुत सारा पैसा खर्च हो गया था और कर्मचारियों का महंगाई भत्ता भी इसी में खर्च हो गया था

🔥 Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे

तो वित्त मंत्री ने कहा कि यह महंगाई भत्ता अब नहीं दिया जाएगा और केंद्रीय कर्मचारी हैं आप तो जान लीजिए पूरी डिटेल क्या होगा इस महंगाई भत्ते का

आपको बता दें कि केंद्र सरकार के पास केवल 34 लाख करोड़ रुपए की धनराशि खजाने में बची हुई और वही आपको बता दें कि इस महंगाई भत्ते में सरकार के पास करुणा काल में लड़ने के लिए एक बेहद मदद मिली है

🔥 Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे

और सरकार ने यह ऐलान भी कर दिया गया है कि कोरोना काल में हुई क्षति से अब केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता नहीं दिया जाएगा

क्योंकि सरकार की वित्तीय स्थिति बहुत कमजोर है और सरकार को 64000 करोड रुपए की पेंशन राशि केंद्रीय कर्मचारियों को देना है इस वजह से ही सरकार ने इस पेंशन योजना को रद्द कर दिया गया है

🔥 Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे

अन्य खबरे पढ़े -

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *