टाटा ग्रुप का पार्टनर बनने के लिए करना होगा केवल 10 हजार रूपय का इन्वेस्टमेंट

अगर हेल्थकेयर और फार्मेसी सेक्टर की बात करें,  यह दोनों सेक्टर  ऐसी है जिनकी आवश्यकता  हमेशा रहेगी और इनमें कभी मंदी नहीं हो सकती।  इन सेक्टरों से तात्पर्य रखते हुए अगर आप कोई व्यापार करते हैं  तो आपको कभी घाटा नहीं होगा  जैसे यदि आप फार्मेसी से जुड़ा कोई व्यवसाय गांवों में भी शुरू करते हैं, तब भी आपको हानि का सामना नहीं करना होगा

आप इसके जरिए काफी मुनाफा भी कमा लेंगे आपने ऑनलाइन फार्मेसी 1mg के बारे में तो सुना ही होगा  और अगर नहीं सुना है  तो हम आपको बता दें कि यह एक ऐसी कंपनी है, जो लोगों के प्रिस्क्रिप्शन अपलोड करते ही उनकी दवाइयां सुरक्षित रूप से उनके घर तक पहुंच आती है इससे मरीज या उसके घर वालों को ज्यादा दूर तक का सफर तय नहीं करना पड़ता यह कार्य बिल्कुल वैसे ही होता है  जैसे आपको घर बैठे आपकी पसंद का फ़ूड मिल जाता है

become a partner of Tata Group you have to invest only 10 thousand rupees

टाटा डिजिटल के पास फार्मेसी 1MG की एक बड़ी हिस्सेदारी मौजूद है और अब वह इसके जरिए देश के हर क्षेत्र में अपना  व्यापार  बढ़ाने की कोशिश  कर रही है  ताकि  वह  देश के लगभग  हर नागरिक तक  पहुंच सके असल में टाटा 1MG फ्रेंचाइजी  हेल्थकेयर और फार्मेसी एक ऐसी संस्था  है, जिन्हें किसी भी तरह की हानि से नहीं जूझना पड़ता। यही एकमात्र वजह है जिसके जरिए देश के काफी लोग अधिक से अधिक मुनाफा कमा रहे हैं।

अपनी कंपनी को बढ़ाने के संबंध में टाटा ग्रुप ने। सेहत के साथी के नाम से एक प्रोग्राम शुरू किया है। इसमें आपको कंपनी की फ्रेंचाइजी दी जाएगी और आपको अपने एरिया में जो भी काम दिया जाएगा वह करना होगा। दरअसल, सेहत के साथी एक लीड जेनरेशन प्रोग्राम है

इसमें आपका  जो भी मुनाफा होगा वो कमीशन के जरिये होगा  आपको जो एरिया दिया जाएगा आपको उस एरिया में  1mg के लिए ग्राहकों को इकट्ठा करना होगा । ग्राहक द्वारा जो भी मुनाफा कंपनी को होगा उसमें से आपको कमीशन दिया जाएगा,  अर्थात जितनी  ज्यादा  संख्या ग्राहकों की होगी उतना ही ज्यादा आपको कमीशन मिलेगा

यह भी पढ़े –

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *