रिलायंस के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट, जानिए क्या हुआ

RIL इंडस्ट्रीज आपका पैसा डबल कर सकता है: अगले तीन वर्षों Reliance 50B $ का कैपिटल एक्सपेंडिचर करेगी । जहा 5G से लेकर ग्रीन एनर्जी,रिटेल बिजनेस , अनेक नए सेक्टर में एंट्री से अपनी आमदनी को 2027 तक दोगुना कर सकती हैं  है। जिससे शेयर प्राइस पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। जैसा अंबानी जी ने AGM मीटिंग में कहा हैं ऐसा ही वैश्विक ब्रोकरेज मॉर्गन स्टेनली की एक रिपोर्ट में  दावा है और  मॉर्गन स्टेनली ने रिलायंस के स्टॉक के टारगेट प्राइस में बदलाव किया है। जो की LTP से 400 रूपये  ज्यादा हैं

₹3000 तक के ऊपर के भाव: अपडेटेड टारगेट प्राइस 3085 रुपये है, पुराना 3015 रुपये टारगेट प्राइस था। बता दें कि वर्तमान में रिलायंस का शेयर  2570 – 2600 रुपये के आसपास ट्रेड कर रहा है। मंडे को स्टॉक के भाव में 1.60% की तेजी आई जबकि सारे ग्लोबल मार्केट में गिरावट दर्ज की गई है

Big update for Reliance investors

इस भाव को टारगेट प्राइस से तुलना की जाए  तो 400 रुपये प्रति शेयर से भी अधिक का प्रॉफिट मिल सकता है। और अगर लंबी अवधी तक शेयर होल्ड करते हैं तो 2027 तक शेयर प्राइस डबल हो सकता हैं और मॉर्गन स्टेनली के अनुसार, रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) के निवेश में 2027 तक मुनाफा दोगुना करने की क्षमता है जहा रिलायंस एक फाइंडामेंटली स्ट्रॉन्ग कंपनी है इसमें इन्वेस्टमेंट करके आप चैन की नींद सो सकते हैं

मॉर्गन स्टेनली ने कहा कि “ रिटेल कारोबार में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। केमिकल्स और सस्ते पश्चिम एशिया गैस तक पहुंच से रिटर्न की चक्रीय नेचर को कम करने में मदद मिलेगी ऐसा ही फर्म का मानना है, ” टेलीकॉम (दूरसंचार) में कम कंपटीशन से कमाई का अनुमान लगाया जा सकता है।
 रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अगले तीन वर्षों में अपने केमिकल, 5जी सेवा, रिटेल कारोबार और न्यू ग्रीन एनर्जी कारोबार पर यह राशि खर्च करने की योजना तैयार की है

कंपनी की कुछ योजनाओं जैसे 5 जी लॉन्च, FMCG स्पेस में प्रवेश और हरित ऊर्जा निवेश ये सब पिछले हफ्ते 29 अगस्त को रिलायंस इंडस्ट्रीज की 45वीं वार्षिक आम बैठक (एजीएम) में चर्चा की गई।

असल में धीरूभाई अंबानी के द्वारा नब्बे के दशक के अंत में रिलायंस ने अपने पहले निवेश चक्र में पेट्रोकेमिकल कारोबार पर ध्यान दिया था। इसके बाद शुरू हुए तेल एवं गैस क्षेत्रों पर जोर रहा। तीसरा निवेश चक्र telecom सेवा पर केंद्रित था अब Agm मीटिंग में Reliance रिटेल ने फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स (FMCG) व्यवसाय में प्रवेश की घोषणा की

मॉर्गन स्टेनली की रिपोर्ट के अनुसार, ”पिछले निवेश चक्रों के द्वारा शेयरहोल्डर्स को 60 अरब डॉलर का योगदान दिया गया है क्योंकि तब कंपनी ने आक्रामक कदम उठाए थे ।”  रिपोर्ट में कहा गया हैं कि रिलायंस अगले फाइनेंशियल ईयर बेहतर स्थिति में होगा

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट और लोस के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

यह भी पढ़े –

अन्य खबरे पढ़े -

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *