टाटा ग्रुप के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट

अगर आप टाटा ग्रुप के शेयरों पर दांव लगाने का विचार कर रहे हैं तो आपके पास शानदार मौका है. दरअसल, टाटा ग्रुप की एक कंपनी 18 साल बाद सार्वजनिक होने जा रही है और अगर आप टाटा ग्रुप के शेयरों पर दांव लगाने वाले हैं तो एक शानदार मौका आपके पास खुद आने वाला है

दरअसल, टाटा ग्रुप की एक कंपनी 18 साल बाद सार्वजनिक होने जा रही है और आपको याद दिला दें कि टीसीएस 2004-18 साल पहले सार्वजनिक हुई थी और उसके बाद टाटा मोटर्स की एक सब्सिडियरी कंपनी टाटा टेक्नोलॉजी आईपीओ (Tata Tech IPO) की योजना बनाई जा रही है

Tata Group Big Update For Investors

अगले साल IPO के आने के आसार: ईटी नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा का यह बिजनेस वित्त वर्ष 2024 की पहली तिमाही में शेयर बाजार में लिस्ट होना चाहता है और आगामी तिमाही में, कंपनी के सेबी को दस्तावेज जमा करने की उम्मीद है

वहीं व्यवसाय वर्तमान में व्यापारी उधारदाताओं के साथ समस्या पर चर्चा कर रहा है और आईपीओ के माध्यम से, फर्म बिक्री के लिए प्रस्ताव (ओएफएस) और नए शेयर दोनों जारी कर सकती है. टाटा समूह के संस्थापक अपने शेयर बिक्री के लिए रख सकते हैं

यह भी पढ़े – राकेश झुंझुनवाला के पोर्टफोलियो से जुडा बड़ा अपडेट जानिए

और टाटा टेक बिक्री के लिए न्यूनतम स्वामित्व ब्याज प्रदान करेगा. इसी के साथ 72.47% स्वामित्व के साथ, Tata Motors, Tata Technologies के थोक को नियंत्रित करती है और सिंगापुर की एक निवेश फर्म अल्फा टीसी के पास भी कारोबार का लगभग 8.97% हिस्सा है

कंपनी के बारे में जानिए: ऑटोमोटिव, एयरोस्पेस, औद्योगिक मशीनरी, और उद्योग क्षेत्र टाटा टेक के संकेन्द्रण के मुख्य क्षेत्र हैं, जिसका पुणे में इसका मुख्यालय है और दुनिया भर में इसके 18 वितरण केंद्र हैं. इसमें एक साथ 9300 कर्मचारी हैं

यह भी पढ़े – LIC शेयर के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट

और यह एक लाभदायक टाटा समूह की फर्म है. 31 मार्च, 2022 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के दौरान टाटा टेक द्वारा 3529.6 करोड़ रुपए का मार्केट कैप अर्जित किया

Tata Group का एक सदस्य, Tata Technologies Limited इंजीनियरिंग और डिज़ाइन, उत्पाद जीवनचक्र प्रबंधन, निर्माण, उत्पाद विकास और IT सेवा प्रबंधन में ऑटोमोटिव और एयरोस्पेस उद्योग सेवाओं में मूल उपकरण निर्माताओं और उनके आपूर्तिकर्ताओं की पेशकश करता है.यह टाटा मोटर्स की सहायक कंपनी है जो एशिया प्रशांत और मध्य पूर्व के अलावा, निगम उत्तरी अमेरिका और यूरोप में काम करता है

यह भी पढ़े – अडानी का शेयर बना राकेट, निवेशको के लिए खुशखबरी

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *