टाटा स्टील कर्मचारियों के लिए बड़ा अपडेट, मिलेगा छप्परफाड़ बोनस

दोस्तों अगर आप टाटा स्टील के कर्मचारी हैं या फिर निवेशक हैं तो यह खबर आपके लिए है, आपको बता दें कि इस साल रूस और यूक्रेन युद्ध के कारण कई प्रकार के बदलाव देखे गए, जिसमें सबसे ज्यादा महंगाई देखी गई

और इसी महंगाई के चलते स्टील और धातु के दामों में बंपर वृद्धि देखने को मिली है, और यह वृद्धि सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि वैश्विक स्तर पर देखने को मिली है, इसी के चलते स्टील कंपनियों को इससे बेहतरीन मुनाफा हुआ है और भारत के Tata Steel का भी कुछ ऐसा ही हाल देखने को मिला है, और अगर आप भी किसी भी प्रकार से इस कंपनी से जुड़े हैं तो आपको भी बेहतरीन मुनाफा मिल सकता है

Tata Steel Employees Big Update

मिलेगा 20% का रिटर्न: दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि इस साल टाटा स्टील को बेहतरीन मुनाफा हुआ है, जिसके बदौलत एक फार्मूला निर्धारित किया गया है जो कि कंपनी के प्रबंधन और टाटा वर्कर्स यूनियन द्वारा निर्धारित किया जाता है

इसके अनुसार कंपनी को मुनाफा होने पर प्रतिवर्ष एक प्रकार का बोनस डिसाइड होता है जिसे कंपनी के वर्कर्स और कर्मचारियों को दिया जाता है, जबकि साल 2020 में ही इस तरह के फार्मूले को हटाने का निर्णय लिया गया था, पर इसके बावजूद इस वर्ष भी इसी फार्मूले के आधार पर कर्मचारियों को वी जाने वाले बोनस का निर्धारण किया गया है

Tata Steel को बेहतरीन मुनाफा: जैसा कि हमने आपको बताया लगातार बढ़ते स्टील और मेटल के दामों और इंपोर्ट कर के कारण घरेलू कंपनियों को बेहतरीन मुनाफा हुआ है, और इसी प्रकार टाटा स्टील को भी 2021 के मुकाबले साल 2022 में करीब 3 गुना अधिक मुनाफा हुआ है

जहां साल 2021 में यह आंकड़ा ₹270 करोड़ था, वहीं इस साल 2022 में यह आंकड़ा तीन गुना होकर ₹33,011 करोड़ पर पंहुच गया है, और जैसा कि हमने आपको बताया कर्मचारियों को बोनस के हिस्से में उस फार्मूले के अनुसार इस बार ₹600 करोड़ आए हैं, और आपको बता दें कि इससे कर्मचारियों को 20% तक का बोनस मिल सकता है, जो कि साल 2008 के बाद सबसे बड़ा बोनस होगा

और जैसा कि हमने आपको बताया इस साल कर्मचारियों के हिस्से में करीब ₹600 करोड़ आए हैं, और इस आंकड़े में से करीब ₹360 करोड़ रूपए बोनस के रूप में निकलते हैं, पर आपको बता दें कि वही कंपनी के विशेष इस मुद्दे पर चुप्पी साध कर बैठे हुए हैं

और पक्ष के अनुसार बताया जा रहा है कि वह कर्मचारियों को बोनस नहीं देना चाहते हैं, पर विपक्ष लगातार यह मांग कर रहा है कि जिस प्रकार निवेशकों और उप कर्मचारियों को बोनस और मुनाफा मिला है उस पर कार्य कर्मचारियों को भी उनका बोनस मिलना चाहिए, और इस मुद्दे पर यह अनुमान लगाया जा रहा है कि 15 सितंबर को सुनवाई होगी

यह भी पढ़े –

अन्य खबरे पढ़े -

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *