क्या Crypto बन पाएगा Fiat Currency? चीफ एडवाइजर नागेश्वरन ने दिया बड़ा बयान!

नमस्कार दोस्तों, जैसा कि हम सभी जानते हैं शेयर बाजार के साथ-साथ फिर तो मार्केट में भी उतार-चढ़ाव का दौर बना हुआ है, जहां एक दिन किसी coin में बढ़त देखने को मिलती है, तो वहीं दूसरे दिन उसी coin में भारी गिरावट देखने को मिल जाती है,

ऐसा ही उतार-चढ़ाव का सिलसिला क्रिप्टोकरेंसी में जारी है, पर कुछ दिनों से उतार-चढ़ाव के बावजूद दुनिया के सबसे बड़े क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin लगातार स्थिरता का परिचय दे रहा है, और आज हम आपको भारत में हो रही विशेषज्ञों द्वारा crypto पर चर्चा के बारे में बताएंगे, पर उससे पहले चलिए अपको बताते हैं, वर्तमान में Crypto बाजार का हाल:

क्रिप्टोकरेंसीबदलावकीमत
Bitcoin-0.4%₹24.76 लाख
Ethereum-0.9%₹1.47 लाख
Tether+0.2%₹82.30
Dogecoin-0.4%₹6.55
Polygon+1.4%₹51.80
cryptocurrency news

यह भी पढ़े – ₹4 से ₹2,138 पे पंहुचा Rakesh jhunjhunwala का यह स्टॉक, दिया 53,000% का मल्टीबैगर रिटर्न!

चीफ एडवाइजर नागेश्वरन ने Crypto पर कहा: भारत के चीफ इकोनामिक एडवाइजर वि अनंत नागेश्वरन ने ब्रस्पतिवार को कहा की क्रिप्टोकरेंसी को fait करेंसी बनने की परीक्षा पास करनी अभी बाकी है, साथ ही में उन्होंने कहा क्रिप्टोकरेंसी को रेगुलेट करना भी एक मुश्किल काम साबित होगा

नागेश्वरन का मानना है कि सामान्य करेंसी की तरह क्रिप्टोकरेंसी स्टोर वैल्यू बड़े स्तर पर स्वीकार्यता और मौद्रिक इकाई जैसे बुनियादी जरूरतों को पूरा नहीं करती, और उन्होने कहा “हालांकि इसे इनोवेशन माना जाता है, लेकिन मैं अपना निर्णय सुरक्षित रखूंगा कि वास्तव में यह इनोवेशन है, या कुछ ऐसा है जिसका हमें पछतावा होगा”

यह भी पढ़े – बड़े निवेशकों के साथ Cricketer भी लगा रहे इस Sector में पैसा, जल्दी करें वरना खो देंगे कमाई मौका!

क्या कहना है RBI के डिप्टी गवर्नर का?: RBI के डिप्टी गवर्नर टी रबी शंकर का कहना है की “क्रिप्टो करेंसी और डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस के संबंध में यह नियामक मध्यस्थता का मामला अधिक लग रहा है, बजाएं की वास्तविक फाइनेंशियल इन्नोवेशन के” उनका कहना है की fiat करेंसी के रुप में क्रिप्टो करेंसी को कई उद्देश्य को पूरा करना होगा

रबी शंकर के मुताबिक इसमें निहित मूल्य होना चाहिए, इसकी व्यापक स्वीकार्यता होनी चाहिए और साथ ही साथ एक मौद्रिक इकाई होनी चाहिए, इस हिसाब से तो करेंसी जैसे नए इनोवेशन को अभी कई परीक्षा पास करना बाकी है, और अनंत नागेश्वरन भी कहते हैं की वे RBI के डिप्टी गवर्नर टी रबी शंकर से सहमत हैं

यह भी पढ़े – Crypto इन्वेस्टमेंट में भारत ने जापान को छोड़ा पीछे! जाने क्या अब हो होगा Crypto बाजार में सुधार?

क्या Crypto को किया जाएगा भारत में रेगुलेट?: नागेश्वरन के अनुसार क्रिप्टोकरेंसी के लिए सेंट्रलाइजड रेगुलेटरी अथॉरिटी नहीं होने की वजह से यह समुद्री डाकुओं के कब्जे वाले क्षेत्र के समान है, हार्वे क्रिप्टो करेंसी को लेकर बहुत ज्यादा उत्साहित नहीं है

आपको बता दें कि क्रिप्टो करेंसी को रेगुलेट करने के लिए केंद्र सरकार ने कदम बढ़ाया है, इकोनामिक सेक्रेटरी अजय सेठ ने हाल ही में बताया था कि सरकार ने कंसल्टेशन पेपर तैयार कर लिया है, वही रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी RBI मैं पिछले साल करेंसी को बैन करने की मांग की थी, जबकि सरकार का कहना है कि वह क्रिप्टो करेंसी पर पूरी तरह से रोक नहीं लगाएगी, आने वाले समय में ही यह साफ हो पाएगा क्या भारत में क्रिप्टो करेंसी को रेगुलेट किया जाएगा या नहीं

यह भी पढ़े – Paytm के शेयर पर JP Morgan की भविष्यवाणी! जाने क्या निवेश से मिलेगा अच्छा मुनाफा?

Disclaimer: यह लेख कुछ आंकड़ों व अनुमानों के आधार पर लिखा गया है क्रिप्टो मार्केट (Cryptocurrency Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Funds),स्टॉक मार्किट (Stock Market) में अपनी रिस्क पर ही इन्वेस्ट करे तथा हम SEBI द्वारा रजिस्टर्ड फाइनेंसियल एडवाइजर नहीं है इसलिए यदि आपको किसी भी प्रकार का लॉस होता है तो इसके लिए हम जिम्मेदार नहीं है

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *