क्या अब Crypto खत्म हो जाएगा भारत से? फंस गए भारतीय Crypto निवेशक!

नमस्कार दोस्तों, अगर आप Crypto में निवेश करते हैं, तो अभी से हो जाइए सतर्क, क्योंकि क्रिप्टो निवेषकों के लिए मुसीबत बढ़ती चली जा रही है, और बहुत सारे क्रिप्टो फ्राड्स के बारे में सुना जा रहा है, हाल ही में एक क्रिप्टो फ्राड हुआ था, जिसमे एक व्यक्ति के साथ 2 सेकंड में 6,50,000 डॉलर का फ्राड हुआ

और सरकार इन फ्राड्स रोकने के लिए कुछ न कुछ नियम और कानून लागू कर रही है, जो क्रिप्टो निवेशको के खिलाफ जाता दिख रहा है, तो आज हम आपको कुछ नए अपडेट्स के बारे में बताने वाले हैं, जिससे अगर आप क्रिप्टो में निवेश करने वाले हैं, तो आपकी आंखे खुल जाएं, और सही और गलत को समझते हुए फैसला लें

क्रिप्टो-करेंसी लीगल है या इल्लीगल है?

अभी तक हम यह नहीं कह सकते हैं, की क्रिप्टो-करेंसी लीगल है या इल्लीगल है, ये बन्हस सालो से चल रही है, आर्थिक साल 2022 के बजट में क्रिप्टो पे 30% का GST लागू किया गया, तो इसलिए कई लोगों को लगा यह देश में लीगल हो सकती है, वहीं कई लोगों ने कहा कि इतना ज्यादा कर का मतलब है, की क्रिप्टो का वॉल्यूम कम करना है

crypto news

और आपको बता दें की ये 30% का कर सिर्फ मुनाफा होने पर ही देना पड़ेगा, यानि अगर आप क्रिप्टो का ट्रांजेक्शन करते हैं, या आपको नुक्सान होता है, तो इस कंडीशन में आपको यह कर नहीं देना है

बस TDS के रूप में हर ट्रांजेक्शन के दौरान 1% का TDS देना पड़ेगा, सरकार ने वर्चुअल एसेट पे कोई टिप्पडी नहीं दी है, पर यह अनुमान लगाया जा रहा है, की क्रिप्टो-करेंसी और NFT इनमे जरुर आने वाले हैं

नहीं कर सकते UPI से निवेश

इसी साल 7 अप्रैल को अमेरिका की क्रिप्टो कंपनी Coinbase जो वॉल्यूम के मामले में दुसरी और दुनिया की तीसरी सबसे क्रिप्टो एक्सचेंज प्लेटफॉर्म है, इसने क्रिप्टो ट्रेडिंग और इन्वेस्टिंग को भारत में लांच करने का ऐलान किया, और कहा की भारती ट्रेडर और निवेशक UPI के जरिए आसानी से ट्रांजैक्शन कर पायेंगे, पर इसके बाद NPCI ने कहा क्रिप्टो एक्सचेंज UPI द्वारा करने की कोई जानकारी नहीं है, और न ही कोई क्रिप्टो के लिए UPI इस्तमाल कर पाएगा

UPI आज के समय में देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम है, एक सर्वे के मुताबिक भारत में UPI से ट्रांजैक्शन करने वाले लोगों की संख्या लगातर बढ़ रही है, और 2020 से 2021 तक में यह आंकड़ा 50% की दर से बढ़ा है, जहां ज्यादातर लोग UPI का इस्तमाल कर रहे हैं

वहीं क्रिप्टो में लोग UPI का इस्तमाल नहीं कर पाएंगे, जो की बहुत बड़ी बात है, इसके बाद Kotak Mahindra ने Coinswitch एक क्रिप्टो प्लेटफॉर्म से अपनी बैंकिंग सुविधा बंद कर ली है

क्या भारत में क्रिप्टो-करेंसी बंद होने वाली है?

जैसा देखा जा रहा है, की क्रिप्टो कंपनियों को लागातार नुक्सान का सामना करना पड़ रहा है, जैसे Wazirx में 2 सप्ताह से भी कम समय में ट्रेडिंग वॉल्यूम में 72% की गिरावट आई है, इसके साथ ही साथ Zebpay में 59%, COINDCX में 52% और Bitbns में 41% की गिरावट हुई। इसी वजह से भारतीय क्रिप्टो निवेशकों में नुकसान होने का डर बढ़ गया है

यह भी पढ़ेलांच होने वाले है 2 तगड़े और धमाकेदार IPO दे सकते है तगड़ा रिटर्न

और ये आशंका जताई जा रही है, की Wazirx भारत से चली जायेगी, तो मैं आपको बता दूं, इस मुद्दे पर कंपनी के Co-Founder ने कहा है, की कंपनी जैसे काम कर रही थी, वैसे ही काम चलता रहेगा, और किसी कंपनी को दूसरे देश में शिफ्ट होने के लिए सरकार की इज्जाजत की जरूरत होती है

और सरकार को क्रिप्टो से मोटी रकम टैक्स के रूप में मिल रही है, इसलिए सरकार इन कंपनियों को ऐसा कुछ करने की इजाजत नहीं देगी

यह भी पढ़ेइन Stocks में कभी मत करना निवेश, वरना हो जाओगे बरबाद!

Disclaimer

हम शेयर मार्केट व म्यूच्यूअल फण्ड व पर्सनल फाइनेंस से सम्बंधित जानकारी प्रदान करते है हम SEBI द्वारा रजिस्टर्ड फाइनेंसियल एडवाइजर नहीं है इसलिए अपनी रिस्क पर ही शेयर मार्केट, म्यूच्यूअल फण्ड, क्रिप्टो आदि में निवेश करे यदि आपको किसी ही प्रकार का लॉस होता है तो इसकेलिए  हम जिम्मेदार नहीं है

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.