अडानी समूह की तरक्की पर उठे सवाल, इन्वेस्टर्स बेच रहे है अपने शेयर्स

उसका आंसर तो जानते ही होंगे गौतम अडानी दुनिया के चौथे सबसे अमीर शख्स बन चुके हैं, और साथ ही साथ एशिया के सबसे अमीर शख्स हैं, इसके पीछे कई प्रकार के कारण हैं सबसे बड़ा कारण तो यह है कि वे लगातार और आक्रमक तरीके से अपने व्यापार कारोबार का विस्तार करते जा रहे हैं

इसके लिए वे कई बड़ी कंपनियों का अधिग्रहण भी कर रहे हैं, पर Fitch के एक रिपोर्ट ने सारी सच्चाई खोल कर रख दी है, जिसके चलते कई बड़ी बातें निकल कर सामने आई हैं, जिसको समझने पर ऐसा लगता है अदानी समूह पर संकट आ सकते हैं, आज हम आपको इन सारी चीजों की पूरी जानकारी देंगे

Fitch raises questions on the growth of Adani Group

Fitch के रिपोर्ट ने किया खुलासा: जैसा कि हम सभी जानते हैं गौतम अडानी लगातार अलग-अलग सेक्टरों में कंपनियों का अधिग्रहण करके, उस इंडस्ट्री में अच्छी पकड़ बना ले रहे हैं, पर सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उनके पास इतना पैसा आ कहां से रहा है, इसी चीज को मद्दे नजर रखते हुए एक Fitch की रिपोर्ट सामने निकलकर आई है

जिसमें बताया गया है कि अदानी अब तक कई लाख करोड़ का कर्ज ले चुके हैं, जो कि आने वाले समय में उनकी कंपनियों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है, और इसलिए इस रिपोर्ट में भी रानी के लिए गए अत्यधिक कर्ज और कैश फ्लो को लेकर चिंता व्यक्त की गई है, और इस रिपोर्ट के चलते कुछ दिनों से अडानी समूह के स्टॉक में भी हलचल देखने को मिली है

Adani Group के शेयर: Adani Wilmar के शेयर में 3.71% की गिरावट देखने को मिली और इसकी कीमत ₹697 रही, Adani Interprises के शेयर में 1.22% की गिरावट देखने को मिली और इसके शेयर की कीमत ₹3,014 है, Adani Port के शेयर में 1.58% की गिरावट देखने को मिली

इसके एक शेयर की कीमत ₹827 रही, Adani Power के शेयर में 4.99% की गिरावट देखने को मिली और इसके शेयर की कीमत ₹412 रही, Adani Transmission के शेयर में 1.31% की गिरावट देखने को मिली और इसकी कीमत ₹3,432 रही, Adani Green Energy के शेयर में 4.66% की गिरावट देखने को मिली और इसकी कीमत ₹2,402 रही

रिपोर्ट का निष्कर्ष: Fitch के रिप्रोट के मुताबिक जिस प्रकार अडाणी समूह अपने व्यापारिक साम्राज्य को बढ़ाते जा रहा है, और इसके लिए कई कंपनियों का अधिग्रहण किया जा रहा है, जिससे कंपनी के नगरी प्रवाह में काफी असर पड़ा है, क्योंकि कंपनी पर कई ज्यादा कर्ज बढ़ चुका है

जिससे आने वाले समय में कंपनी के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं, पर यह भी मानना है कि अडानी समूह की बैंकों और सरकार के साथ अच्छा तालमेल है जिसके कारण इनको आने वाले समय में कोई दिक्कत नहीं होगी, पर दिग्गज व्यापारी मुकेश अंबानी द्वारा तगड़ी टक्कर से कंपनी के लिए मुसीबतें खड़ी होने की संभावना है

यह भी पढ़े –

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *