पिता ने बनाई थी स्कूटी लेकिन बेटे ने बना दी करोड़ो की कंपनी, जानिए सफलता की कहानी

आज हम आपको एक ऐसे इंसान के बारे में बताने वाले जिसके पिता ने भारत को स्कूटी का तोहफा दिया था और उन्होंने ही भारत में पहली स्कूटर बनाई थी लेकिन उनके बेटे ने अपने पिता की स्कूटी से भी कुछ बड़ा करने की कोशिश की और अपने इस प्रयास में सफल भी हो क्योंकि उन्होंने कोई छोटी मोटी कंपनी नहीं बल्कि 60000 करोड़ से बड़ी भी एक कंपनी बना डाली है और इसीलिए आजकल यह काफी चर्चा में भी है चली आज हम आपको इनके बारे में काफी बातें बताते हैं कि आखिरकार इन्होंने कैसे इतनी बड़ी कंपनी बनाई

Rahul Bajaj Success Story

आज हम जिसके बारे में बात करने वाले हैं उनकी इस कंपनी की शुरुआत उनके पिता की वजह से ही हुई थी और उनके पिता का नाम है राहुल बजाज जिन्होंने भारत में सबसे पहला स्कूटर बनाया था जिसका नाम होने चेतक रखा था और तब से ही भारत में वह काफी प्रचलित हो गए थे लेकिन उनके बेटे ने इससे बड़ा भी काम कर दिखाया है और राहुल बजाज जब सिर्फ 26 साल के थे

यह भी पढ़े – मात्र ₹200 थे जेब में लेकिन आज बना करोड़पति, लाखो लोग है इनके दीवाने

तभी उन्होंने बजाज कंपनी का हिस्सा बन गए थे और तब से उनकी जिंदगी की जर्नी शुरू हुई और उन्होंने इस कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए काफी मेहनत की और इसीलिए आज या इतनी बड़ी कंपनी बन चुकी और उसके बाद अपने पिता के सपने को पूरा करने के लिए उनके बेटे ने आज इस कंपनी को देश की बहुत बड़ी कंपनियों में से एक बना दिया है

यह भी पढ़े – आलू चिप्स बनाने की ऐसी मशीन जो कमाकर देगी आपको हर महीने लाखों रुपए

पर इस कंपनी को राहुल बजाज के दादाजी ने शुरू किया था जिनका नाम जमुनालाल बजाज था और उन्होंने यह कंपनी 1926 में शुरू की थी और राहुल ने इस कंपनी को 1946 में ज्वाइन किया था और तब से वह इस कंपनी की ग्रोथ करने के लिए काफी मेहनत करते रहते थे और इसीलिए उनकी मेहनत से आज बजाज कंपनी मिलियन डॉलर की नहीं बल्कि बिलियन डॉलर्स की हो चुकी है

यह भी पढ़े – यह लड़का बांस की मदद से बनाता है कई प्रकार की चीजें और कमाता है लाखों रुपए

लेटेस्ट बिज़नेस आईडिया के अपडेट निचे दिए गए Telegram बटन पर क्लिक करके हमारा ग्रुप जॉइन करे

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.