Forex में आया तगड़ा उछाल, जानिए डिटेल्स

इस बार रुपए पर दबाव की कमी देखी गई है क्योंकि कच्चे तेल और कमोडिटी की प्राइस में कमी हुई है जिससे भारत का दूसरे सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़ोतरी देखने को मिली है

और हाल के जारी आंकड़ों के अनुसार जो की भारती रिजर्व बैंक द्वारा दिए गए हैं, सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में से एक एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का विदेशी मुद्रा भंडार 2.54 अरब डॉलर से बढ़ चुका है और यह अब 547.25 अरब हो गया है

विदेशी मुद्रा एसेस्ट में हुई बढ़ोतरी: आरबीआई ने एक बयान जारी किया जिसके मुताबिक विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़ोतरी होने की वजह विदेशी मुद्रा ऐसेट यानी एफसीए में फायदे होने के कारण है

Strong boom in Forex

साथ ही आपको यह भी बता दें कि 18 नवंबर को विदेशी मुद्रा ऐसेट में 1.76 अरब डॉलर की बढ़ोतरी देखी गई और यह अब 484.29 अरब डॉलर तक पहुंच चुकी है, साथ ही साथ अगर हम सोने की भंडार की बात करें तो यह एक 30.5 करोड़ डॉलर से बढ़कर 40 अरब डॉलर के आसपास पहुंच चुका है।

वही आपको बता देना चाहते हैं कि 18 नवंबर के आखिरी सप्ताह के दौरान रुपया लगभग 1.1% नीचे चला गया और आज लगभग यह $1 के मुकाबले ₹81.6850 पर ठहरा हुआ है और अगर हम इससे पहले जाएं तो हम देखते हैं कि रुपए में पिछले कुछ महीनों और 1 साल में रुपए में काफी ज्यादा बदलाव देखने को मिले हैं जो कभी 75 से ₹74 के आसपास रहता था

यह भी पढ़े – शोर्ट टर्म में तगड़ा रिटर्न दे सकता है यह शेयर, जानिए डिटेल्स

वह अब ₹81 के पार जाता हुआ दिख रहा है जो कि एक गंभीर स्थिति है और अभी भी यह लगातार गिरता जा रहा है, जिसपर विशेषज्ञों ने भी अपनी चिंता जताई है और कहां है कि सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए

यह भी पढ़े – हर शेयर पर मिलेंगे बोनस शेयर, जानिए डिटेल्स

इसके अलावा 11 नवंबर को विदेशी मुद्रा भंडार में भी काफी ज्यादा वृद्धि देखने को मिली है जो अगस्त के बाद काफी ज्यादा बदलाव पर है। और वही विदेशी मुद्रा खरीद के लिए केंद्रीय बैंक की तरफ से 8 बिलियन डॉलर का प्रभाव दर्शा रहा है

यह भी पढ़े – इन शेयरों में लगाया पैसा तो होगा फ़ायदा, जानिए स्टॉक्स के नाम

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

अन्य खबरे पढ़े -

Disclaimer: इस आर्टिकल को कुछ अनुमानों और जानकारी के आधार पर बनाया है हम फाइनेंसियल एडवाइजर नही है आप इस आर्टिकल को पढ़कर शेयर बाज़ार (Stock Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) निवेश करते है तो आपके प्रॉफिट (Profit) और लोस (Loss) के हम जिम्मेदार नही है इसलिए अपनी समझ से निवेश करे और निवेश करने से पहले फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह जरुर ले

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *