Virat Kohli की कंपनी Digit Insurance करेगी ₹4000 करोड़ का IPO लॉन्च, मिलेगा जबरदस्त मुनाफा!

नमस्कार दोस्तों, कनाडा के अरबपति प्रेम वत्स के अफेयर सेक्स ग्रुप द्वारा संचालित भारत का Digit Insurance, IPO के जरिए $4.5 बिलियन से $5 बिलियन के मूल्यांकन पर लगभग $500 मिलियन डॉलर जुटाने पर विचार कर रहा है, इस मामले से अवगत तीन लोगों ने रायटर को बताया, Digit के संस्थापक कामेश गोयल बीमा उद्योग के एक अनुभवी हैं, जिन्होंने जर्मनी के आलियांज के साथ काम किया और इसके भारतीय संयुक्त उद्यम का नेतृत्व किया, भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली इस कंपनी में एक निवेशक और इस कंपनी के ब्रांड एंबेसडर है

Virat Kohli Company IPO

यह साल 2017 में स्थापित कंपनी, Digit Insurance बेहतर ग्राहक अनुभव के लिए योग कर्ताओं की आवश्यकता के साथ-साथ भारत के कम प्रवेश सामान्य बीमा बाजार को भुनाने की कोशिश कर रहा है, हालांकि पिछले कुछ महीनों में देश में लॉन्च हुऐ IPO का अच्छा प्रदर्शन देखने को नहीं मिला है

Digit Insurance IPO: Digit ने शादी के लिए मोरगन स्टेनली ली और भारतीय निवेशक बैंक ICICI Securities को बुकरनर के रूप में नियुक्त किया है, सूत्रों के अनुसार इसकी योजना सितंबर तक बाजार नियामक को अपने मौजूदा दस्तावेज दाखिल करने, और जनवरी तक सूची देने की है, इस महीने की शुरुआत में जब इसने फंडिंग की किस्त जुटाई थी, तब Digit का मूल्य करीब $4 अरब डॉलर आंका गया था, इसने फेयरफैक्स के अलावा सिकोया कैपिटल, A91 पार्टनर्स और फेयरिंग कैपिटल से $4 करोड़ डॉलर से अधिक जुटाए हैं

IPO के लिए जरूरी शर्तें: भारत के किसी बीमा कंपनी को सार्वजनिक होने या IPO लॉन्च करने से पहले क्षेत्र की कंपनियों को कम से कम 5 साल पुराना होना चाहिए, जिसे Digit Insurance सितंबर तक पूरा कर लेगी, लोगों ने कहा की Digit ने अपने सबसे बड़े शेयर धारक फेयरफैक्स के साथ नए शेयरों की पेशकश करके धन जुटाने योजना बनाई है, जिसमें लगभग 30% हिस्सेदारी है, और Digit के ऑफिशियल वेबसाइट के अनुसार, Digit ने बाइक, कार, स्वास्थ्य और यात्रा बीमा में 2 करोड़ से अधिक ग्राहकों को यह सारी सुविधा और सेवाएं प्रदान की है

Digit Insurance कंपनी का ग्रोथ: पिछले वित्तीय वर्ष में इस का राजस्व 62% बढ़कर लगभग 675 मिलीयन डॉलर हो गया, जो उद्योग की 11% वृद्धि को पीछे छोड़ता है, कंपनी को साल 2020-2021 मैं 309 मिलियन डॉलर के राजस्व पर 7.8 मिलियन डॉलर घाटा उठाना पड़ा, Digit Insurance भारत के कुछ स्टार्टअप यूनिकॉर्न में से एक है, अलग-अलग ब्रोकरों का कहना है, कि Digit के IPO की मांग मैक्रोइकोनॉमिक कारकों के अलावा अपने शेयर की कीमतों पर निर्भर करेगी, और जैसा कि हम सभी जानते हैं रुपए की गिरती कीमत और बढ़ते ब्याज दरों का असर भारत और विदेशों के IPO के मांग पर पड़ रहा है, अब देखना यह है, कि यह IPO सफल होते है या फेल

यह भी पढ़े –

Disclaimer: यह लेख कुछ आंकड़ों व अनुमानों के आधार पर लिखा गया है क्रिप्टो मार्केट (Cryptocurrency Market), म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Funds),स्टॉक मार्किट (Stock Market) में अपनी रिस्क पर ही इन्वेस्ट करे तथा हम SEBI द्वारा रजिस्टर्ड फाइनेंसियल एडवाइजर नहीं है इसलिए यदि आपको किसी भी प्रकार का लॉस होता है तो इसके लिए हम जिम्मेदार नहीं है

Similar Posts

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.