सहारा इंडिया के अंदर फंसा है आपका पैसा, आ गया है आपके लिए बहुत बड़ा अपडेट

अगर आपके घर इंडिया में फंसे हुए हैं तो यह आपके लिए बहुत जरूरी खबर है सरकार ने सहारा इंडिया से रिफंड को लेकर लोकसभा में बड़ी जानकारी दी है लोकसभा में सरकार ने जानकारी देते हुए बताया है कि सहारा इंडिया के 13 करोड निर्देशकों को कब मिलने वाला है पैसा?
आइए लेटेस्ट अपडेट जानते हैं

Sahara india refund 2022: यदि आपके पैसे भी सहारा इंडिया में फंसे हुए हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत काम की है सरकार ने लोकसभा में जानकारी दी है कि सहारा इंडिया में पैसा लगाने वालों की संख्या करोड़ों में है लोकसभा में जानकारी देते हुए केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने बताया कि सहारा ग्रुप की विभिन्न इकाइयों में करीब 13 करोड़ निर्देशकों के 1.12 लाख करोड रुपए फंसे हुए हैं केंद्रीय मंत्री पंकज चौधरी ने लोकसभा में एक प्रश्न के जवाब में यह जानकारी दी

Sahara india Big update

कहां पहुंच गए हैं निवेशकों के यह पैसे: केंद्रीय मंत्री ने बताया कि उच्चतम न्यायालय के आदेश और सहारा के मामलों में शीर्ष अदालत के द्वारा नियुक्त न्यायमूर्ति बीएन अग्रवाल के के परामर्श के बाद से भी भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड ने कई विज्ञापनों के द्वारा निर्देशकों को बताया है कि पैसे वापस लेने के लिए आवेदन की प्रक्रिया क्या होगी अभी भी सहारा की कई यूनिट्स में करीब 13 करोड़ निवेशकों के 1.12 लाख करोड रुपए फंसे हुए हैं |

सेबी ने सहारा की कंपनियों पर लगाया था जुर्माना: पहले मार्केट रेगुलेटर सेबी ने सहारा ग्रुप की दो कंपनियों सहारा कमोडिटी सर्विसेज कॉरपोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड के साथ-साथ सुब्रत राय और तीन लोगों पर ₹12 करोड़ रूपये का जुर्माना लगाया था

यह जुर्माना 2008 और 2009 में 16 पूर्ण परिवर्तनीय डिबेंचर जारी करने में नियम के नियमों के उल्लंघन को लेकर लगाया था इस साल लगातार सहारा इंडिया परिवार के निवेशक अलग-अलग जगहों पर अपने रिफंड के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं| देश के करोड़ों निवेशक सहारा इंडिया में फंसे पैसे के रिफंड को लेकर बहुत चिंतित हैं

अब तक कितना मिला रिफंड: सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त 2012 को आदेश दिया जिसके बाद सहारा इंडिया ने निवेशकों से जमा की गई 2578137 करोड़ की राशि के बदले 31 दिसंबर 2021 तक सेबी सहारा रिफंड खाते में 1550369 करोड़ रुपए जमा किए गए

वित्त राज्य मंत्री की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार सेबी को 81.70 करोड रुपए की मूल राशि के लिए 53642 ओरिजिनल बांड सर्टिफिकेट / पासबुक से जुड़े हुए 19644 आवेदन मिले हैं इनमें से सेबी ने 138.07 करोड रुपए की कुल राशि 48326 ओरिजिनल बांड सर्टिफिकेट / पासबुक के 17526 उपलब्ध बॉन्डहोल्डर्स को रिफंड किया है

लेटेस्ट बिज़नेस आईडिया के अपडेट निचे दिए गए Telegram बटन पर क्लिक करके हमारा ग्रुप जॉइन करे

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *